तबरेज अंसारी केस में हुआ नया खुलासा, SDM की रिपोर्ट इन लोगों को बताया गया जिम्मेदार

सरायकेला-खरसांवा में बाइक चोरी के आरोप में की गई तबरेज अंसारी की ह’त्या के मामले में हाईकोर्ट में सरायकेला के एसडीएम ने विस्तृत रिपोर्ट पेश की। जिसमे तबरेज की मौत के लिए जिम्मेदार डॉक्टर और पुलिसकर्मी को बताया गया है।

रिपोर्ट के अनुसार, डॉक्‍टरों ने तबरेज का ठीक से इलाज नहीं किया। रिपोर्ट के अनुसार, घटना के बाद जब तबरेज को अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, तब डॉक्‍टर ओपी केसरी, डॉक्‍टर शाही और डाॅक्‍टर प्रदीप ने तबरेज की चिकित्‍सकीय जांच की थी। उस दौरान डॉक्‍टरों ने रिपोर्ट में सामान्‍य इंजरी लिखा।

इसके बाद 22 जून को तबरेज को सांस लेने और तबीयत ज्‍यादा खराब हो गई तो पुलिस ने उसे जिला अस्‍पताल ले गई। जहां सुबह 8.35 उसकी मौत हो गई। पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट में तबरेज की मौ’त का कारण डंडे से जबरदस्‍त पिटाई बताया गया।  जांच के दौरान यह पाया गया है कि तबरेज अंसारी को बचाने के लिए दो थानों के प्रभारी अधिकारी ने समय पर प्रतिक्रिया नहीं दी। स्थानीय ग्राम प्रधान ने पुलिस को घटना के बारे में देर रात 2 बजे सूचित किया लेकिन वे 6 बजे घटनास्थल पर पहुंचे।

तबरेज अंसारी के साथ मारपीट में अब तक 11 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। इसके अलावा थाना प्रभारी को भी लाइन क्लोज कर दिया गया है। बता दें कि 8 जुलाई को हाइकोर्ट के जस्टिस एचसी मिश्रा और जस्टिस दीपक रोशन की खंडपीठ ने सरायकेला में मॉब लिंचिग में मारे गये तबरेज अंसारी मामले की रिपोर्ट 17 जुलाई तक कोर्ट में सौंपने का निर्देश दिया था।

Download Super 30 Full Hindi Movie – tamilrockers

कोर्ट ने तबरेज अंसारी समेत हाल के दिनों मॉब लिंचिग में मार गये 18 लोगों की जांच रिपोर्ट की मांग भी की थी। तबरेज अंसारी का मामला संयुक्त राष्ट्र तक पहुंच चुका है। एक एनजीओ ने यह बात यूएन में उठाई थी। NGO के द्वारा कहा गया है कि तबरेज अंसारी को झारखंड में हिंदू भीड़ ने जय श्री राम के नारे ना लगाने की वजह से मा’र दिया गया।

You May Also Like

Error: View cf868acl2n may not exist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *